सोमवार, 28 मार्च 2016

जोड़ो के दर्द का इलाज

दोस्तों आज आप के साथ एक ऐसा फार्मूला शेयर करना चाहता हु जो हर एक परिवार के लिए जरुरी है। ज्यादातर इसके शिकार हमारे घर बुजुर्ग ही होते है और हम कुछ नही कर पाते। जी हा हम जोड़ो के दर्द, घुटनो के दर्द, सर्वाइकल, फ्रोज़न शोल्डर, स्लिप डिस्क, हाथ पैरो का दर्द, गठिया रोग, अर्थरिटिस, हाथ पैरो की अकड़न, कैल्सियम की कमी, संधिवात, आमवात और कमरदर्द ऐसे और भी नाम हम इस बीमारी को देते है। डॉक्टर के पास इसका इलाज भी करते है लेकिन कोई फायदा नहीं। जब तक दवाई लेते है तब फायदा होता है। दवाई बंद करते ही फिर से समस्या शुरू होती है।

निचे दिए गए औषधियां आपको पंसारी (जड़ी बुटी दुकान) में मिल जाएगी और न भी मिले तो निराश मत होना। आप हमारे पास से बानी बनायी दवाई भी आर्डर कर सकते है। हमें आप कभी भी हमारे मोबाइल नंबर 07838157738 पे कॉल कर सकते है। 4-5 महीने के निरंतर उपयोग से सभी दर्द से छुटकारा मिलेगा यह आजमाया हुवा फार्मूला है।

जड़ी बुटी के नाम : पुनर्नवा 30 ग्राम, शुद्ध गुग्गल 20 ग्राम, अश्वगंधा 30 ग्राम, सौंठ 30 ग्राम, सहजन के पत्ते सूखे 100 ग्राम, महायोगराज गुग्गल 30 ग्राम, चंद्रप्रभावती 30 ग्राम, देवदार 30 ग्राम, रास्ना 30 ग्राम, शंखभस्म 20 ग्राम, प्रवाल भस्म 20 ग्राम, गोखरू 30 ग्राम, सहजन के बीज 40 ग्राम इत्यादि।

बनाने की विधि :
सभी जड़ी बूटियों को पंसारी की दुकान से लेकर कूट पीसकर पाउडर बना लीजिये और रोज सुबह शाम भूके पेट गुनगुने पानी के साथ 1-1 चम्मच सेवन कीजिये।

परहेज: तेल में तले पदार्थ, आलू, फास्टफूड, जंकफूड, मैदे से बने पदार्थ न खाए और रोज सुबह बिना चप्पल के रोड पे चले।

नोट : तैयार की हुयी दवाई डाक से भेजने की सुविधा उपलब्ध है।
WATSaap no. 09971485458

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें