रविवार, 18 अप्रैल 2021

श्री गुरुदेव दत्तात्रेय मन्त्र पुष्पांजलि

 श्री गुरुदेव दत्त अवधूत मारग सिद्ध चौरासी तपस्या करें ।

श्री भेशकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवशंकर कैलाष में ध्यान करें ।।धृ.।। हरिः ॐ गुरुजी ।।

बिछी है जाजम लगा है तकिया नाम निरंजन स्वामी वे जपें ।

श्री भेशकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवशंकर कैलाष में ध्यान करें ।।1।। हरिः ॐ गुरुजी ।।

पीर होकर गद्दी जो बैठे तजि तुरंगाहस्ति वे चढें ।

श्री भेशकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवशंकर कैलाष में ध्यान करें ।।2।। हरिः ॐ गुरुजी ।।

पंडित होकर वेद जो बांचे धन्धा उपाधि से न्यारा रहे ।

श्री भेशकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवशंकर कैलाष में ध्यान करें ।।3।। हरिः ॐ गुरुजी ।।

ऋशि जो मुनि गुरु दूधा जो धारी उर्ध्व बाहू तपस्या करें ।

श्री भेशकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवशंकर कैलाष में ध्यान करें ।।4।। हरिः ॐ गुरुजी ।।

रुखड़ सुखड़ धूप जो खेवे नागा सन्यासि तपस्या करें ।

श्री भेशकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवशंकर कैलाष में ध्यान करें ।।5।। हरिः ॐ गुरुजी ।।

कोई है लाखी गुरु कोई है खाकी बनखंडी वन में तपस्या करें ।

श्री भेशकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवषंकर कैलाष में ध्यान करें ।।6।। हरिः ॐ गुरुजी ।।

आबू जी गढ गिरनार वासा महोरगढ भिक्षा करें ।

श्री भेशकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवशंकर कैलाष में ध्यान करें ।।7।। हरिः ॐ गुरुजी ।।

जपत ब्रम्हा गुरु रटत विश्णु आदि देव महेष्वरम ।

श्री भेशकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवशंकर कैलाष में ध्यान करें ।।8।। हरिः ॐ गुरुजी ।।

दशनाम भेष गुरु जीवन सन्यासि सर्वदेव रक्षा करें ।

श्री भेशकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवशंकर कैलाष में ध्यान करें ।।9।। हरिः ॐ गुरुजी ।।

देव भारत देव लीला दोउ कर जोडे स्तुति करें ।

श्री भेशकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवशंकर कैलाष में ध्यान करें ।।10।। हरिः ॐ गुरुजी ।।

चन्दा जो सूरज नौ लख तारे गुरुजी तुम्हारी परिक्रमा करें ।

श्री भेषकीयो शम्भु टेक कारण गुरुजी शिखर पर जप करें ।।

श्री गुरुदत्तात्रेय गिरनार पर जप करें अलखजी माहोरगढ राज करें ।

श्री शिवशंकर कैलाष में ध्यान करें ।।11।।

हरिः ॐ गुरुजी ।।

हरिः ॐ गुरुजी ।।

1 comments:

Birthastro ने कहा…

At Birthastro, this is a dedicated software of online Kundli or online horoscope is made available to you free of cost. You will get your detailed natal chart, your Ascendant report, Moon sign and other Nakshatra predictions. janam kundali

एक टिप्पणी भेजें