बुधवार, 1 जुलाई 2015

विपरीत प्रत्यंगिरा मोहनी प्रयोग




विपरीत प्रत्यंगिरा मोहनी प्रयोग

मंत्र : ऊँ हूँ मोहिनी स्प्रे स्प्रे मम ( शत्रुन ) मोहय मोहय फें हूँ फट् स्वाहा

विधि : मंगलवार के दिन कम से कम 10 हजार जप कर लें "शत्रुन " की 
जगह साध्य का नाम और स्मरण करें

हवन : हवन के लिए देशी गाय के दुध में पकायी हुई खीर में शहद 
मिलाकर 108 बार उपरोक्त मंत्र से हवन करने से साध्य व्यक्ति का 
आप से आकर्षण हो जाता है
मेरा अनुभव किया हुआ प्रयोग है

1 टिप्पणियाँ:

monika sharma ने कहा…

nice blog thanks for sharing

एक टिप्पणी भेजें