गुरुवार, 3 दिसंबर 2015

पुत्र प्राप्ति हेतु संतान गोपाल मन्त्र व् विधी

संतान गोपाल मन्त्र व् विधी
बाल गोपाल श्री कृष्ण जी के बाल रूप को कहा जाता है !
कृष्ण जी अपने बाल रूप मे बहुत नटखट थे 
हिन्दू धर्म के अनुसार श्री कृष्ण जी के
बाल गोपाल स्वरूप की पूजा करना निःसंतान दम्पतियों के लिये बहुत शुभ मानी जाती है
बाल गोपाल एक ऐसा ही मन्त्र है
जो की निःसंतान दम्पतियों के लिये आशीर्वाद स्वरूप माना जाता है
मन्त्र जाप के साथ- साथ अपने शयन कक्ष मे
श्री कृष्ण की बाल रूप की प्रतिमा रखे इस प्रतिमा की श्रद्धाभाव से पूजा करते हुये लड्डू
माखन मिश्री का भोग लगाये
मान्यता है कि इस मन्त्र का प्रति दिन 108 जाप
करने से जातक को संतान अवश्य प्राप्त होती है
मन्त्र का प्रयोग
संतान प्राप्ति के इछुक दम्पति किसी भी रविवार को प्रातकाल सूर्यादय से पहले स्नान करके तन मन से पवित्र होकर एक पानी वाला नारियल लेकर किसी ऐसे स्थान से जहाँ पर उगते हुये सूर्य देव के स्पष्ट दर्शन हो सके
पति पत्नी दोनों एक साथ सूर्य देव को ताँबे के पात्र से जल अर्पण करते हुये
ॐ श्री सूर्य नारायणय नमः
का जाप करते हुये हुये अधर्य दे
गोले को तोड़कर उसको प्रसाद के रूप मे महिला
को खिला दे
उसके बाद प्रति दिन एक माला रोज मन्त्र का
जाप करे
=================*=====₹==
ॐ श्री ह्रीं क्ली ग्लौं
देवकी सुत गोविन्द वासुदेव जगत्पते
देहि मे तनयं कृष्ण त्वामहं शरणं गत:==
=========================
किसी भी परामर्श के लिये बात करे!
हमारे यहाँ पर पुत्र प्राप्ति की दवाई भी उपलब्ध है जिसकी दक्षिणा रु 5100 /- है जिसके सेवन से पुत्र प्राप्ति ही होती है । वे दंपत्ति जिनके संतान न हो या केवल लड़किया ही हो वो दक्षिणा देकर दवा ले ले 99 % सफलता की गारंटी है 1 % तो भगवान के ही हाथ में है 

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें