शुक्रवार, 9 सितंबर 2016

तेल मातंगी साधना

ग्रहण में मंत्र का १०८ बार जप करे । आसान और वस्त्र लाल रंग के हो, रुद्राक्ष माला, उत्तर दिशा की और मुख करके बैठे । 

मंत्र :- ॐ ऐं तेल मातंगी न्रू नख मध्ये आगच्छ तत कर्म कुरु कुरु स्वाहा । 

प्रयोग :- बारह वर्ष से काम उम्र के बालक/बालिका के दाहिने हाथ के अंगूठे पर चमेली का तेल लगाए और 21 बार मंत्र बोलकर अंगूठे पर फूंक मारे तो बच्चे को माता का चेहरा दिखाई देगा और जो सवाल पूछा जायेगा उसका जवाब मिलेगा । 

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें